Amazing Facts Of Science in Hindi





दोस्तों  वैसे  तो  हमारे  ब्रह्माण्ड  में  अनेक  प्रकार  के  research  हमेशा  होते  ही  रहते   है , जिससे  हमें  अनेक  प्रकार  की  जानकारियां  प्राप्त  होती  है ,जिसके  कारण  हम  अपने  जीवन  को और आसान  बनाते  जा  रहे  है।  इस आर्टिकल  में  हम  बात  करने  वाले  है  विज्ञान  के कुछ  आश्चर्यजनक  (Amazing Facts Of Science in Hindi) तथ्यों  के  विषय  में , जैसे  की  पृथ्वी  पर सबसे  ज्यादा  गर्म  स्थान  कहा  पर  है , और  सबसे  ठंडा  स्थान  कहा  पर  है  और  सबसे  ज्यादा  आक्सीजन  देने  वाला  क्षेत्र  आदि , तो ज्यादा  वक्त ना लेते  हुए आइये शुरू करते है:-

Amazing Fact of Science

1. भूकम्प  एक  ऐसी  आपदा  है जिसके  कारण  हमारे जिंदगी में  बहुत से दुष्परिणाम देखने को  मिलता है. लेकिन  क्या आप जानते है  हमारे पृथ्वी पर एक  साल में लगभग दस  लाख बार छोटे-बड़े भूकंप आते है। 

2. अगर  बात  की  जाए  पृथ्वी  पर आज  तक  की सबसे गर्म  और सबसे ठण्डे  स्थान  की  तो , आज  तक  का  सबसे  गर्म
तापमान  लिबिया  1922 में  दर्ज  किया  गया था, जो 136 °F  था , और  सबसे  ठंडा  स्थान  अंटार्कटिका 1983 में  दर्ज  किया गया था , जो कि  -35 °C था। 

3 पृथ्वी  के ऑक्सीजन  का  20%  अमेज़न  वर्षाव न द्वारा  उत्पादित  किया  जाता  है, अमेज़न वर्षावन अमेज़न नदी के किनारे के जंगली क्षेत्रो  को  कहा  जाता  है  जो  की अमेरिका  में  मौजूद  है। 

4. दुनिया  का  सबसे  ऊँचा  पर्वत  माउंट  एवरेस्ट है  जिसकी  ऊँचाई  8,842 मीटर  है, इसके  विपरीत, महासागर  का  सबसे  गहरा  हिस्सा  11,033  मीटर  की  गहराई  के  साथ  मारियाना  खाई  है।

5. जब  एक  अंतरिक्ष  यात्री अंतरिक्ष  से लौटता  है  तो  आप  उसकी  ऊंचाई  में  दो  इंच  तक  का अंतर  देख सकते  हैं,  क्योंकि  हमारी  रीढ़  की  हड्डी  में  कार्टिलेज  का  विस्तार होता है, जहां  कोई  गुरुत्वाकर्षण  नहीं होता  है।

6. ब्रह्मांड 100 बिलियन से अधिक (galaxies).आकाशगंगाएँ हैं।

7. केवल  शुक्र  गृह  एक  ऐसा  गृह  है, जो  दक्षिणावर्त  (clockwise)  घूमता है। 

8. गर्म  पानी  ठण्डे  पानी  की अपेक्षा  जल्दी  जमने  लगता  है। 

9. गैसोलीन  एक  ऐसा  पदार्थ  है  जो की किसी  भी  अवस्था  में  जमता  नहीं  है। 

10. धरती से किसी  भी उल्कापिंड के टकराने का खतरा 9300 बार में से एक बार होता है।



Post a Comment

0 Comments