Interesting Fact about TV in Hindi टीवी के रोचक तथ्य


दोस्तों आज शायद ही कोई घर हो जिसके घर TV ना हो। कई लोगो  के घरो में तो दो ,तीन या उससे अधिक टीवी होने।  दोस्तों आज टेलीविशन TV के माद्यम से देश-विदेश की खबर हम घर बैठे जान जाते है , लेकिन क्या आप जानते है टीवी का आविष्कार कैसे हुआ और किससे ? 
आज हम  आर्टिकल के टीवी का आविष्कार कैसे हुआ और किसने किया ,इसके रोचक तथ्य और इतिहास के बारे में जानेंगे ज्यादा समय न बर्बाद करते हुए चलिए शुरू करते है 


 टेलीविजन के आविष्कारक “जाॅन लोगी बेयर्ड”अपने बचपन के दिनों में बीमार रहा करते थे, इसलिए स्कूल नहीं जा सकते थे। 13 अगस्त, 1888 को स्कॉटलैंड में पैदा हुए  बेयर्ड को टेलीफोन का इतना क्रेज था कि 12 वर्ष की उम्र में उन्होंने खुद ही अपना टेलीफोन बना लिया। बेयर्ड सोचा करते थे कि एक दिन ऐसा भी आएगा, जब लोग हवा के माध्यम से तस्वीरें भेज सकेंगे। बेयर्ड ने वर्ष 1924 में बक्से, बिस्कुट के टिन, सिलाई की सूई, कार्ड और बिजली के पंखे से मोटर का इस्तेमाल कर पहला टेलीविजन बनाया था।

Interesting Fact about TV in Hindi टीवी के रोचक तथ्य 


tv


टेलिविजन के  रोचक तथ्य:

  • Television का शार्ट फाॅर्म “T.V” पहली बार 1948 में रखा गया था ।
  •  1987 तक आइस्लैंड में गुरूवार को टीवी पर ब्राॅडकास्ट नही होता था।
  • 1997 में अफ्रिका में एक बंदर को टीवी एंटीना चुराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
  • 2004 में ब्रिटेन में लोगो की संख्या से ज्यादा टीवी की संख्या हो चुकी थी।
  • 2008 में सुपर बाॅल के दौरान 30 सैकेंड का एड टीवी पर दिखाने के लिए कंपनी ने 16.72 करोड़ रुपये खर्च किया गया था  ।
  • एक आंकड़े के अनुसार वर्ष 2009 तक दुनिया में  करीब 78 फीसदी घरों में कम से कम एक टीवी सेट अवश्य था।
  • टैलीविजन देखते समय आप सोने से ज्यादा कैलोरी  खर्च कर देते  है.
  • वर्ष 2013 में दुनिया में कुल टीवी बिक्री का करीब 87 फीसदी हिस्सा “LCD TV  का था।
  • 103 इंच का पैनासोनिक प्लाजमा टीवी दुनिया के  सबसे बड़ा प्लाजमा टीवी है।
  • 370 इंच की स्क्रीन का TV  दुनिया का सबसे बड़ा  ब्रिटिश कंपनी टाइटन द्वारा बनाया गया है।
  • 13.399 करोड़ रूपए कीमत का दुनिया का सबसे महँगा TV प्रेस्टीज HD सुप्रीम रोज एडिशन टीवी है।
  • एक व्यक्ति हर महीने औसतन 175 घंटे टीवी देखता लेता है।
  • हर 4 में से 1 अमेरिकी कभी न कभी टीवी पर दिखाई दिया  है।
  • अमेरिका में 14 साल का होने से पहले एक बच्चा 13000 लोगो को टीवी पर मरते हुए देख लेता है।

 टेलिविजन (TV) के इतिहास 


tv

1.907 में पहली बार “Television” शब्द आस्तित्व में आया था और डिक्शनरी में जोड़ा गया।
2. 1924 में जाॅन ब्रेड ने पहली बार छायाचित्रो को मूव किया था।
3. 1933 में सप्ताह  में 2 बार प्रोग्राम टीवी पर आना शुरू हुआ था ।
4. 1936 तक दुनिया में लगभग 200 टेलिविजन सेट इस्तेमाल होने लगे थे। तब 12 इंच की टीवी स्क्रीन के साथ बड़े-बड़े उपकरण लगाए जाते  थे।
5. दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान टेलिविजन का इस्तेमाल बढ़ गया। इस समय टीवी प्रचार करने वाली मशीन की तरह इस्तेमाल होने लगी थी । टेबलटाॅप और कंसोल दो तरह के माॅडल प्रचलन में आए थे।
6. पूरी तरह से कलर टीवी प्रसारण 1953 में अमेरिका में ही शुरू हुआ था।
7. 1956 में राबर्ट एडलर ने पहला रिमोट कंट्रोल का निर्माण किया ।
8. 1962 में “AT&T” कंपनी ने टेलीस्टार लाॅन्च की।
9. 1967 के आसपास अधिकतर प्रोग्राम लगभग कलरफुल आने लगे थे।
10. 1969 में “Apollo 11” पहला प्रोग्राम ब्राॅडकास्ट हुआ था । जिसको  600 मिलियन लोगो ने देखा।
11. 1973 में टीवी की स्क्रीन को और बड़ा कर दिया गया। इस समय टीवी का वजन काफी ज्यादा  था।
12.  वर्ष 1976 में भारत में टीवी प्रसारण को ऑल इंडिया रेडियो से अलग कर दिया  गया।
13. 1980 में टीवी के साथ VCR, Games आदि आने लगे थे । इसे टीवी की पॉपुलैरिटी और बढ़ती गई। रिमोट वाले टीवी ने दस्तक दी और लोकप्रिय हुई ।
14. 1990 के बाद टेलिविजन (TV ) में कई बदलाव आए। टीवी का साइज और क्वालिटी  बेहतर हुई। इसी समय LCD और प्लाज्मा जैसी टेक्नोलाॅजी के साथ भी एक्सपेरिमेंट चल रहा था।
15. 2000 के बाद VCR की जगह DVD प्लेयर इस्तेमाल होने लगा। कई कमर्शियल चैनल आए और टीवी का स्वरुप बदल गया। 
16. 2000 के बाद अब जमाना स्मार्ट टीवी का आ गया  है। अब अल्ट्रा UHD, बेन्डेवल, 4K, 3D, LCD/LED टीवी अब ना सिर्फ मनोरंजन का काम कर रहे है, बल्कि कम्पयूटिंग और कनेक्टिविटी के लिए भी इस्तेमाल हो रहे है।
17. भारत में टेलीविजन प्रसारण की शुरुआत 15 सितंबर, 1959 में दिल्ली से हुई थी। 1972 तक टेलीविजन की सेवाएं अमृतसर और मुंबई के लिए बढ़ाई गईं। 1975 तक भारत के केवल सात शहरों में ही टेलीविजन की सेवा शुरू हो पायी  थी।  1982 में भारत में कलर टीवी और राष्ट्रीय प्रसारण की शुरुआत हुई।

Post a Comment

0 Comments